Breaking News
Home » Breaking News » मोतिहारी: महिलाओं को हज पर अकेले जाना सही नही : मुफ़्ती ज्याउल हक

मोतिहारी: महिलाओं को हज पर अकेले जाना सही नही : मुफ़्ती ज्याउल हक

सत्याग्रह न्यूज संवाददाता अफ़ज़ल आलम

रामगढ़वा (12 अक्टूबर 2017) महिलाओं को हज पर अकेले जाना सही नही है। उक्त बाते जमीयत उलेमा ए हिन्द रक्सौल इकाई के सचिव मुफ़्ती ज्याउल हक ने कही। हज यात्रा पर जाने को लेकर जो नई हज नीति बनाई गई है। उस पर नाराजगी जताते हुए मुफ़्ती ज्याउल हक काशमी ने कहा कि महिला को बिना महरम के हज करना गैर शरई फैसला है। इस फैसला को लेने से पहले उसके बारे में जानना जरूरी है। इस्लाम मे हज एक इबादत है। जो अल्लाह औऱ रसूल के बताए हुए तरीके पर ही किया जाएगा। जिन लोगों ने ऐसी सिफारिश की है कि चालीस से ज्यादा साल की महिलाएं बगैर महरम के हज पर जा सकतीं हैं। वह हज जैसी पवित्र इबादत को टूर समझते हैं या उनको हज के बारे में कोई जानकारी नही है। मुसलमान सरकार के इस फैसले को कभी भी क़बूल नही करेंगे। इस तरीके के फैसले बिल्कुल शरीयत में दखल है। जमीयत उलेमा ए हिन्द इसकी मुखालफत करती है। और सरकार इस बात का मुतालबा करती है। कि इस तरह के फैसले जम्हूरी मुल्क के लिए सही नही है।

About pramod kumar

x

Check Also

मोतिहारी: सरकारी कार्य मे बाधा पहुँचाने के आरोप मे दर्ज एफ आई आर के आरोपितो को हरसिद्धी पुलिस ने किया गिरफ्तार

मोतिहारी: सरकारी कार्य मे बाधा पहुँचाने के आरोप मे दर्ज एफ आई आर के आरोपितो को हरसिद्धी पुलिस ने किया ...