देश में इमरजेंसी लगाने वाली कांग्रेस से अपने संबंधों पर पुनर्विचार करें समाजवादी-सुशील मोदी……….

देश में इमरजेंसी लगाने वाली कांग्रेस से अपने संबंधों पर पुनर्विचार करें समाजवादी-सुशील मोदी
अतिश दीपंकर
बिहार-झारखंड स्टेट हेड
CIB इंडिया न्यूज़
बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील मोदी ने आज कहा कि , इंदिरा गांधी ने 1975 में देश में इमरजेंसी लगा कर ऐतिहासिक भूल की थी। तानाशाही और भ्रष्टाचार की पर्याय बनी कांग्रेस ने इमरजेंसी के दौरान इंदिरा गांधी की कुर्सी बचाने के लिए जयप्रकाश नारायण सहित तमाम विपक्षी नेताओं को जेल में डाल दिया था। जेल यातना की वजह से ही जेपी का असामयिक निधन हुआ। जेपी के अनुयायी रहे नीतीश कुमार ने ऐतिहासिक भूल तो तब की जब उन्होंने इमरजेंसी लगाने वाली कांग्रेस से समझौता कर लिया।
लालू प्रसाद कह रहे हैं कि एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन देकर नीतीश कुमार ऐतिहासिक भूल कर रहे हैं। दरअसल नीतीश कुमार ने तो कोविंद को समर्थन देकर अपनी भूल को सुधारने की शुरूआत की है। राष्ट्रपति के यूपीए उम्मीदवार मीरा कुमार के पिता बाबू जगजीवन राम को तो घुटन के कारण इमरजेंसी के बाद कांग्रेस छोड़ना पड़ा और उन्हें उप प्रधानमंत्री बना कर सम्मान तो जनता पार्टी की उस सरकार ने दिया जिसमें जनसंघ भी शामिल था।
कांग्रेस ने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया मगर गरीबों को बैंकों से दूर रखा। 28 करोड़ गरीबों का बैंक खाता तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने खोलवाया है। इसी प्रकार कांग्रेस ने गरीबी हटाओ का नारा दिया मगर कांग्रेसियों के साथ लालू प्रसाद सरीखे नेता गरीबों के नाम पर अपनी अमीरी बढ़ाने में लगे रहे।
इमरजेंसी देश का एक ऐसा काला दाग है जिससे कांग्रेस कभी मुक्त नहीं हो सकती है। लोहिया और उनके अनुयायी समाजवादी जिन्दगी भर कांग्रेस से लड़ते रहे मगर दुर्भाग्य है कि, वे आज उसी कांग्रेस से हाथ मिला लिए हैं। समाजवादियों को कांग्रेस से अपने संबंधों पर पुनर्विचार करना चाहिए।

Check Also

​मगध विश्वविधालय में छात्रों की समस्या को लेकर प्रदर्शन कर रहे अभाविप नेताओं पर लाठीचार्ज-प्रदेश मंत्री दीपक घायल

बोधगया। मगध विश्वविद्यालय छात्रों के लूट के अड्डा बन चुका है विश्वविद्यालय बस डिग्री के …